इस रेलवे लाइन पर आज भी है अंग्रेजों का राज, शकुंतला एक्सप्रेस ट्रेन के लिए सरकार देती है करोड़ों!

शकुंतला एक्सप्रेस रेलवे जो भारत में होते हुए भी भारतीय रेलवे (Indian Railways) के अधीन नहीं हैं। इस ट्रैक और ट्रेन पर आज भी निजी कंपनी का हक है। इस बात को लेकर कई लोगों के मन में संशय रहता है।

कहां है यह ट्रेक

शकुंतला रेलवे, महाराष्ट्र के अमरावती में 190 किलोमीटर की एक रेलवे लाइन है. इस पर चलने वाली शकुंतला एक्सप्रेस पैसेंजर गाड़ी है।

कब हुआ निर्माण

ये रेलवे लाइन को अंग्रेजों के जमाने में 1916 में बनाया गया था। ब्रिटिश कंपनी किलिक निक्सन ने इसे बनाया था। उसके बाद सन 1951 में जब पूरे देश की रेल भारतीय रेलवे के अधीन हो गई तब किसी वजह से यह 190 किलोमीटर का ट्रैक छूट गया। इसकी वजह का पता आज तक नहीं चला है।

कौन करता हैं संचालन

इसका अभी भी संचालन जारी है और कई गरीब लोग इस ट्रैक पर सफर कर रहे हैं। इस ट्रैक के देख-रेख और संरक्षण का काम आज भी ब्रिटेन की कंपनी करती है।

भारत सरकार कितना पैसा देती है हरसाल

महाराष्ट्र के अमरावती में नैरो गेज (छोटी लाइन) के इस ट्रैक का इस्तेमाल करने वाली भारतीय रेलवे को हर साल एक करोड़ 20 लाख की रॉयल्टी ब्रिटेन की एक प्राइवेट कंपनी को देनी पड़ती है। हालांकि भारत सरकार द्वारा इसे खरीदने की खबरें कई बार आ चुकी हैं।

यह भी पढ़ें -

पॉपुलर स्टोरी