बिहार में पूरा थाना था नकली, DSP से कॉन्स्टेबल तक थे तैनात-दर्ज होती थी FIR

बिहार एक गजब मामला सामने आया है, जिसे देखकर पुलिसवालों के पैरों तले की जमीन खिसक गई। बांका जिले में एक होटल में नकली थाना चल रहा था। जहां डीएसपी से लेकर कांस्टेबल तक तैनात थे। एफआईआर भी होती और कार्रवाई भी।

बुधवार को अहले सुबह पुलिस ने छापेमारी कर शहर के अनुराग गेस्ट हाउस में फर्जी तरीके से संचालित हो रहे नकली थाने का पर्दाफाश किया है। छापेमारी में पुलिस ने पुलिस की फर्जी वर्दी में एक युवक और युवती को भी गिरफ्तार किया है।

नकली दरोगा बनी युवती अनिता देवी के पास से एक देसी कट्टा भी बरामद किया गया है। उसने बताया कि ये कट्टा उसे वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा सीखने के लिए दिया गया था। उसने दावा किया कि उसकी बहाली झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के कहने पर हुई है।

फर्जी पुलिस थाने में मुंशी का काम कर रहे फुल्लीडुमर के लौढिया गांव के रहने वाले रमेश कुमार और सुल्तानगंज के खानपुर की रहने वाली जुली कुमारी को भी हिरासत में लिया गया है।

यह भी पढ़ें -

पॉपुलर स्टोरी