नर्मदा नदी पर आधारित फिल्म ‘रेवा’ की स्क्रीनिंग के साथ मनाई गई नर्मदा जयंती

जयपुर, 8 फरवरी | पत्रकारिता के छात्रों को भारतीय नदियों से जोड़ने के उद्देश्य और देश के विभिन्न हिस्सों में नदियोंं के किनारों पर स्थित यात्रा स्थलों से अवगत कराने के लिए जयपुर में सक्षम संचार फाउंडेशन ने मणिपाल संस्थान के सहयोग से नर्मदा जयंती के अवसर पर नर्मदा नदी पर बनी फिल्म रेवा का स्क्रीनिंग कार्यक्रम आइनॉक्स जीटी सेंट्रल मॉल में किया।

इस फिल्म के माध्यम से छात्रों को इस तथ्य से अवगत कराया गया कि नदियाँ भारतीय अर्थव्यवस्था की जीवन रेखा कैसे हो सकती हैं और वे संस्कृति, व्यापार, पर्यटन और व्यवसाय को कैसे बढ़ावा दे सकती हैं।

इस अवसर पर अनुभवी फिल्म समीक्षक मनु त्रिपाठी ने कहा कि नदियों के महत्व जानने के लिए पत्रकारिता के छात्रों को फिल्म स्क्रीनिंग से जोड़ना मेरा पहला अनुभव है।

इस अवसर पर सामाजिक कार्यकर्ता सुजाता वर्मा ने कहा कि छात्रों को प्रकृति के आशीर्वाद से अवगत कराने के लिए यह सबसे अच्छा प्रयास है।

सामाजिक कार्यकर्ता मनोज कुमार ने कहा कि कई राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय पुरस्कार जीत चुकी रेवा फिल्म की कहानी में कई आश्चर्यजनक रहस्यों का खुलासा किया है। इसी तरह, नदियों में और उसके आसपास कई कहानियाँ छिपी हुई हैं, जिन्हें आने वाले समय में पत्रकारिता के माध्यम से उजागर करने की जरूरत है।

सक्षम संचार फाउंडेशन के कोर्डिनेटर रवींद्र नागर ने कहा कि हमारे पास विभिन्न स्थानों पर जाकर पत्रकारिता के छात्रों को प्रशिक्षित करने की योजना है ताकि वे अपनी पढ़ाई के साथ प्रेक्टिकल नॉलेज भी लें सकें।

वरिष्ठ पत्रकार अर्चना शर्मा ने संस्थान के प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि इस तरह के आयोजन बार-बार किए जाने चाहिए ताकि छात्र हमारी नदियों, प्राकृतिक संसाधनों के बारे में जान सकें और उनसे जुड़ी कहानियों को सामने ला सकें।

मणिपाल इंस्टीट्यूट के पत्रकारिता विभाग की छात्रा रिया ने कहा कि फिल्म की स्क्रीनिंग करना बेहतर अनुभव था फिल्म से कई रोचक जानकारि

यह भी पढ़ें -

पॉपुलर स्टोरी